Page Nav

HIDE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

Top 2024 तलवार और राजपूत के स्टेटस – Rajput Shayari In Hindi

खुदगर्ज़ी का तौर ये बना है, हम #राजपूत बनकर निभा रहे हैं।   धरती पे हमारा राज, इतिहास बयां कर रहे हैं।   शस्त्रों का धारी हैं, अधिकारी हैं, ...

Top 2024 तलवार और क्षत्रिय के स्टेटस – क्षत्रिय शायरी इन हिंदी


खुदगर्ज़ी का तौर ये बना है, हम #राजपूत बनकर निभा रहे हैं।  

धरती पे हमारा राज, इतिहास बयां कर रहे हैं।  


शस्त्रों का धारी हैं, अधिकारी हैं, धर्म के रक्षक, वीर हैं हम।  

खड़े हैं जीवन की राह पे, समय के बवंडर से लड़ रहे हैं हम।  


वीरता की हर लड़ाई में, सर्वोच्चता हमें मिली है।  

#राजपूत भावना के संग, अनमोल गौरव हमें मिली है।  


उन्नति की ओर बढ़ते, नये उच्चांक मुकाम पा रहे हैं।  

#राजपूत होने का गर्व, देश के नाम जीता रहे हैं।  


सीना तानकर खड़े हैं, धरती को स्वर्ग बना रहे हैं हम।  

#राजपूत बनकर दी शपथ, अब तक बस राष्ट्र का काम कर रहे हैं।


बढ़े हैं हर मुश्किल से, साहस और समर्पण से,  

#राजपूत बनकर आज भी, देश के विकास में योगदान दे रहे हैं।


#राजपूत होने का ये अभिमान, भारतीय होकर जीने की शान,  

हर क्षण, हर पल, यहाँ की भूमि का है आदान-प्रदान।


बस इसी भावना के साथ, जीने की हम मान्यता पाते हैं,  

#राजपूत बनकर इस धरती पर, हमें गर्व होता है, ये हम जानते हैं।


वीर तो अपने वंश के खून में होते हैं,  

देश के लिए लड़ना, यही हमारी शान है।


बड़े शौर्य से भरी, हर लड़ाई हमारी,  

#राजपूत शक्ति से परिपूर्ण, हर कार्य हमारा।


धरती पे खड़े हैं, रक्त से लबालब हमारे,  

#राजपूत बनकर आज भी, अपने देश को समर्पित हमारे।


सैन्य साहस से भरे, शक्ति का प्रतीक हम,  

#राजपूत धर्म के पक्षपाती, वीरता का अभिमान हमारे।


शस्त्र और शस्त्रार्पण का हमारा सन्मान,  

भारतीय #राजपूत होने का, हमें गर्व है यह जानते हम।


वीरता की हर लड़ाई में, ध्वजा लहराई हमारी,  

#राजपूत बनकर धरती पर, विश्वास बढ़ाए हमारी।


शांति के लिए हम तैयार, वीरता से परिपूर्ण हमारा संकल्प,  

#राजपूत बनकर आज भी, देश के संरक्षण में जुटे हैं हम।


राष्ट्रभक्ति की हर धड़कन में, उम्मीद का आभास हमारा,  

#राजपूत बनकर यहाँ पर, जीवन का आदान-प्रदान हमारा।


हर बाधा को सामने कर, अपने कर्तव्य का पालन,  

#राजपूत बनकर यहाँ पर, देश के नाम पर अटल हमारी भावना।


धर्म की रक्षा के लिए तैयार, अपने वचनों का पालन,  

#राजपूत बनकर आज भी, निर्माण करते हैं हम शान।


हर समय, हर पल, देश के लिए है हमारा समर्पण,  

#राजपूत बनकर यहाँ पर, दिखाते हैं अपना वीरता का प्रदर्शन।



खून और पसीने से रंगी हमारी तलवारें,  

#राजपूत बनकर देश के लिए हर बाधा को हरें।


धरती पर हमारा गौरव, बिखेरे हैं जहां पे,  

#राजपूत बनकर धरती के रक्षक, आत्मा में हैं जवां हम।


वीरता की हर लड़ाई में, बढ़ाते हैं हम सम्मान,  

#राजपूत धर्म के पक्षपाती, हर कठिनाई से उभरते हमारे अन्न


कोई टिप्पणी नहीं